15°C New York
February 27, 2024
PM मोदी ने कोरोना की मौजूदा स्थिति पर मुख्यमंत्रियों के साथ की बैठक
India

PM मोदी ने कोरोना की मौजूदा स्थिति पर मुख्यमंत्रियों के साथ की बैठक

Apr 23, 2021

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (PM Narendra Modi) ने शुक्रवार को कोरोना वायरस की ताजा लहर में सबसे अधिक प्रभावित 10 राज्यों के मुख्यमंत्रियों के साथ वीडियो कांफ्रेंसिंग के जरिए चर्चा कर महामारी की मौजूदा स्थिति की समीक्षा की। यह बैठक ऐसे समय में हुई है जब देश में कोरोना महामारी लगातार भयावह रूप लेती जा रही है और कई राज्यों में बिस्तरों से लेकर ऑक्सीजन तक की कमी के मामले सामने आ रहे हैं।

बैठक में महाराष्ट्र, उत्तर प्रदेश, केरल, छत्तीसगढ़, मध्य प्रदेश और दिल्ली सहित कुछ अन्य राज्यों के मुख्यमंत्री शामिल हुए। बैठक में दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल (Arvind Kejriwal) ने ऑक्सीजन की किल्लत का जिक्र करते हुए कहा कि इस वक्त दिल्ली में ऑक्सीजन का बहुत बड़ा संकट चल रहा है। केंद्र सरकार का दिल्ली का ऑक्सीजन का कोटा बढ़ाने के लिए मैं प्रधानमंत्री जी आपका धन्यवाद करता हूं, इस बढ़े हुए कोटे को दिल्ली तक पहुंचाने में हमारी मदद करें।

सीएम केजरीवाल ने आगे कहा कि देश को कोरोना से बचाने के लिए एक नेशनल प्लान बनना चाहिए। इसके तहत देश के सभी ऑक्सीजन प्लांट को तुरंत आर्मी के जरिए केंद्र सरकार टेक ओवर करे। उन्होंने कहा कि प्लांट से निकलने वाले हर ट्रक के साथ आर्मी का एस्कॉर्ट वाहन होगा तो ऑक्सीजन ट्रक कोई रोक नही पाएगा।

मुख्यमंत्री ने प्रधानमंत्री मोदी से अपील करते हुए कहा कि केंद्र सरकार और राज्य सरकार को एक ही दाम में कोरोना वैक्सीन मिले। उन्होंने कहा कि एक कंपनी के रेट के मुताबिक वो राज्य को 400 और केंद्र को 150 रुपए में वैक्सीन देगी। एक ही देश मे एक ही वैक्सीन के दो रेट कैसे हो सकते हैं? वन नेशन-वन रेट होना चाहिए।

सरकारी सूत्रों से प्राप्त जानकारी के मुताबिक मुख्यमंत्रियों से संवाद करने से पहले प्रधानमंत्री ने सुबह नौ बजे एक आंतरिक बैठक की, जिसमें केंद्र सरकार के विभिन्न मंत्रालयों के वरिष्ठ अधिकारियों ने हिस्सा लिया। इसके बाद प्रधानमंत्री ने 10 राज्यों के मुख्यमंत्रियों के साथ संवाद किया और महामारी की वर्तमान स्थिति की समीक्षा की।

इसके अलावा पीएम मोदी ने देश के अग्रणी ऑक्सीजन निर्माताओं से भी बातचीत की है। देश में शुक्रवार को एक दिन में रिकॉर्ड 3,32,730 नए मामले सामने आए। इसके साथ ही देश में संक्रमण के कुल मामले बढ़कर 1,62,63,695 हो गए। केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय के शुक्रवार तक के आंकड़ों के मुताबिक, 24 लाख से अधिक लोग अब भी संक्रमण की चपेट में हैं, जबकि 2,263 और लोगों की मौत होने के बाद मृतकों की संख्या 1,86,920 पर पहुंच गई है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *